राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद की इथोपिया यात्र के दौरान दो महत्वपूर्ण समझौतों पर सहमति बनी। व्यापार व मीडिया, संचार के क्षेत्र में हुए करार पर कोविंद व इथोपिया के राष्ट्रपति मुलातू टेसहोम ने दस्तखत किए।

कोविंद ने इस दौरान ‘इंटरनेशनल सोलर अलाइंस’ (आइएसए) में भागीदारी के लिए इथोपिया का आभार जताया। ये 2015 में गठित हुआ था। इसका उद्देश्य सौर ऊर्जा के इस्तेमाल को प्रभावी बनाना है। कोविंद ने कहा कि इथोपिया के बिजली, स्वास्थ्य व शिक्षा के क्षेत्र में भारत का योगदान अतुलनीय है।

भारत उन तीन देशों में शामिल है जहां से इथोपिया को सीधा विदेशी निवेश मिलता है। इसके बाद दोनों देशों के प्रमुखों ने ‘इंडिया-इथोपिया बिजनेस फोरम’ को संबोधित करने के साथ ‘इंडिया-इथोपिया, 70 ईयर्स ऑफ डिप्लोमेटिक रिलेशन’ किताब का विमोचन भी किया।

• इस फोरम में सौ से ज्यादा भारतीय कंपनियां शामिल हैं। कोविंद ने कहा कि भारत ने नौकरियों का सृजन करके इथोपिया को समृद्ध होने में मदद की।

•  जिबूती से बुधवार को कोविंद इथोपिया पहुंचे थे। बीती रात उन्होंने भारतीय समुदाय को संबोधित भी किया था।

 


 

Leave a Reply

Your email address will not be published.