president of india, india,श्री रामनाथ कोविंद

president of india, india, एक वकील, अनुभवी राजनीतिक प्रतिनिधि तथा भारतीय सार्वजनिक जीवन और समाज के समतावाद और एकता के लंबे समय से समर्थक श्री राम नाथ कोविन्द का जन्म 1 अक्तूबर, 1945 में कानपुर के निकट, उत्तर प्रदेश के परौंख गांव में हुआ। उनके पिता श्री मैकू लाल और माता श्रीमती कलावती थी। 25 जुलाई, 2017 को भारत के 14वें राष्ट्रपति का पद ग्रहण करने से पहले, श्री कोविन्द ने 16 अगस्त, 2015 से 20 जून, 2017 तक बिहार राज्य के 36वें राज्यपाल के रूप में कार्य किया।

शिक्षा और कार्य पृष्ठभूमि

श्री राम नाथ कोविन्द ने कानपुर से अपनी स्कूली शिक्षा पूरी की और कानपुर विश्वविद्यालय से बी.कॉम और एलएलबी की उपाधियां प्राप्त कीं। 1971 में उन्होंने दिल्ली बार काउंसिल में अधिवक्ता के रूप में प्रवेश किया। श्री कोविन्द 1977 से 1979 तक दिल्ली उच्च न्यायालय में केन्द्रीय सरकार के अधिवक्ता तथा 1980 से 1993 तक उच्चतम न्यायालय में केन्द्रीय सरकार के स्थायी परामर्शक थे। वह 1978 में भारत के उच्चतम न्यायालय के एडवोकेट-ऑन-रिकार्ड बने। उन्होंने 1993 तक लगभग 16 वर्ष तक दिल्ली उच्च न्यायालय और उच्चतम न्यायालय में प्रैक्टिस की।

संसदीय और सार्वजनिक जीवन

श्री राम नाथ कोविन्द को अप्रैल, 1994 में उत्तर प्रदेश से राज्य सभा के सदस्य के रूप में निर्वाचित किया गया। उन्होंने मार्च, 2006 तक 12 वर्ष के लिए लगातार दो कार्यकाल तक कार्य किया। श्री कोविन्द ने अनुसूचित जाति/अनुसूचित जनजाति कल्याण पर संसदीय समिति, गृह मंत्रालय पर संसदीय समिति, पेट्रोलियम और प्राकृतिक गैस पर संसदीय समिति; सामाजिक और न्याय अधिकारिता पर संसदीय समिति; तथा विधि और न्याय पर संसदीय समिति जैसी संसदीय समितियों में सदस्य के रूप में कार्य किया। वह राज्य सभा सदन समिति के अध्यक्ष थे। श्री कोविन्द ने डॉक्टर बी.आर. अंबेडकर विश्वविद्यालय, लखनऊ के प्रबंधन बोर्ड के सदस्य तथा भारतीय प्रबंधन संस्थान, कोलकाता के शासक मंडल के सदस्य के रूप में भी कार्य किया। वह संयुक्त राष्ट्र में भारतीय शिष्टमंडल के सदस्य थे और उन्होंने अक्तूबर, 2002 में संयुक्त राष्ट्र आम सभा को सम्बोधित किया।

धारित पद

2015-17 : बिहार के राज्यपाल 1994-2006 : राज्यसभा के सदस्य, उत्तर प्रदेश राज्य के प्रतिनिधि 1971-75 और 1981 : महासचिव, अखिल भारतीय कोली समाज 1977-79 : दिल्ली उच्च न्यायालय में केंद्र सरकार के अधिवक्ता 1982-84 : उच्चतम न्यायालय में केंद्र सरकार के कनिष्ठ परामर्शक

वैयक्तिक विवरण

श्री कोविन्द ने 30 मई, 1974 को श्रीमती सविता कोविन्द से विवाह किया। उनके एक पुत्र श्री प्रशांत कुमार और एक पुत्री सुश्री स्वाति हैं। एक उत्साही पाठक, राष्ट्रपति की राजनीति और सामाजिक परिवर्तन, विधि और इतिहास तथा धर्म पर पुस्तकों के अध्ययन में रुचि है। अपने लम्बे सार्वजनिक कार्यकाल के दौरान, श्री कोविन्द ने देशभर की व्यापक यात्राएं की हैं। उन्होंने संसद के सदस्य के रूप में, थाईलैंड, नेपाल, पाकिस्तान, सिंगापुर, जर्मनी, स्विटजरलैंड, फ्रांस, यूनाइटेड किंग्डम और संयुक्त राज्य की भी यात्रा की हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.