श्रीमती सुषमा स्‍वराज विदेश मंत्री भारत की पहली महिला विदेश मंत्री

श्रीमती सुषमा स्‍वराज का जन्‍म 14 फरवरी, 1952 को अंबाला, हरियाणा में हुआ। आप सात बार संसद सदस्‍य चुनी गई हैं तथा तीन बार विधायक के रूप में चुनी गई हैं। आप पेशे से वकील हैं तथा आपने एस डी कालेज, अंबाला कैंट (हरियाणा) और विधि विभाग, पंजाब विश्‍वविद्यालय, चंडीगढ़ से शिक्षा प्राप्‍त की है।

विदेश मंत्री
विदेश मंत्री

राजनीतिक करियर:

श्रीमती सुषमा स्‍वराज ने 1970 के दशक में अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद से अपने राजनीतिक करियर की शुरूआत की। आप 1977 में 25 साल की आयु में हरियाणा विधान सभा का सदस्‍य और हरियाणा में कैबिनेट मंत्री बनी तथा 7 विभागों का कार्य संभाला। जब आप 27 साल की थी तब 1979 में आप जनता पार्टी (हरियाणा) का राज्‍य अध्‍यक्ष बनी। आप 1987 से 1990 के दौरान भारतीय जनता पार्टी एवं लोकदल की गठबंधन सरकार में हरियाणा की शिक्षा मंत्री रही।

आप अप्रैल 1990 में राज्‍य सभा का सदस्‍य चुनी गई तथा 1996 में दक्षिण दिल्‍ली निर्वाचन क्षेत्र से 11वीं लोक सभा के लिए चुने जाने तक राज्‍य सभा का सदस्‍य रही। आप 1996 में अटल बिहारी वाजपेयी की पहली सरकार में केंद्रीय सूचना एवं प्रसारण मंत्री रही। आप 1998 में दूसरी बार दक्षिण दिल्‍ली संसदीय क्षेत्र से 12वीं लोक सभा के लिए पुन: चुनी गई। अटल बिहारी वाजपेयी की दूसरी सरकार में आपने 19 मार्च से 12 अक्‍टूबर 1998 तक दूरसंचार मंत्रालय के अतिरिक्‍त प्रभार के साथ केंद्रीय सूचना एवं प्रसारण मंत्री के रूप में शपथ ली। अक्‍टूबर, 1998 में दिल्‍ली की पहली महिला मुख्‍यमंत्री के रूप में पदभार ग्रहण करने के लिए आपने केन्‍द्रीय मंत्रिमण्‍डल से त्‍यागपत्र दे दिया।

राष्‍ट्रीय राजनीति में वापस आने के लिए आपने अपनी विधान सभा सीट से त्‍यागपत्र दे दिया तथा जनवरी, 2003 से मई 2004 तक स्‍वास्‍थ्‍य एवं परिवार कल्‍याण मंत्री तथा संसदीय कार्य मंत्री रही।

श्रीमती स्‍वराज अप्रैल 2006 में मध्‍य प्रदेश से राज्‍य सभा के लिए पुन: चुनी गई। आप अप्रैल 2009 तक राज्‍य सभा में भाजपा की उप नेता रही। आपने 2009 में 15वीं लोक सभा के लिए मध्‍य प्रदेश के विदिशा लोक सभा क्षेत्र से चुनाव जीता तथा 21 दिसम्‍बर, 2009 को 15वीं लोक सभा में प्रतिपक्ष की नेता बनी तथा मई, 2014 तक इस पद पर बनी रही। 2014 में आप विदिशा से पुन: चुनी गई हैं।

श्रीमती स्‍वराज ने अपने राजनीतिक करियर के दौरान निम्‍नलिखित पद धारण किए हैं:

1992-94

सदस्‍य, सरकारी आश्‍वासन समिति, राज्‍य सभा

1994-96

सदस्‍य, सरकारी आश्‍वासन समिति, राज्‍य सभा

1996-98

सदस्‍य, रक्षा समितिअध्‍यक्ष, नौसैन्‍य बेड़ा के उन्‍नयन एवं आधुनिकीकरण पर उप समितिसदस्‍य, विशेषाधिकार समिति

अगस्‍त 2004-09

अध्‍यक्ष, गृह मामले समिति, राज्‍य सभासदस्‍य, कार्य सलाह समिति, राज्‍य सभासदस्‍य, सामान्‍य प्रयोजन समिति, राज्‍य सभा

सितंबर 2004-09

सदस्‍य, लोकाचार समिति, राज्‍य सभा

अक्‍टूबर 2004-09

सदस्‍य, परामर्शदात्री समिति, रक्षा मंत्रालय

मई 2006-2009

सदस्‍य, जनसंख्‍या एवं जन स्‍वास्‍थ्‍य पर संसदीय फोरम

मई 2008-2009

सदस्‍य, सदन समिति, राज्‍य सभा

31 अगस्‍त, 2009

से 1 जनवरी, 2010 अध्‍यक्ष, विदेशी मामलों पर स्‍थायी समिति

23 सितंबर 2009

– सदस्‍य, नियमावली समिति

7 अक्‍टूबर 2009

सदस्‍य, लोकाचार समिति

21 दिसंबर 2009

– मई, 2014 नेता, प्रतिपक्ष, लोक सभा

 

निजी जीवन

श्रीमती स्‍वराज की शादी श्री स्‍वराज कौशल से हुई है जो भारत के उच्‍चतम न्‍यायालय में आपराधिक मामलों के वरिष्‍ठ वकील हैं तथा 1990 से 1993 तक मिजोरम के राज्‍यपाल भी रह चुके हैं। श्री स्‍वराज कौशल 1998 से 2004 तक संसद सदस्‍य रहे हैं। आपकी एक बेटी है जिसका नाम बांसुरी है, जो आक्‍सफोर्ड विश्‍वविद्यालय से ग्रेजुएट है तथा इनर टैम्‍पल से विधि बैरिस्‍टर है।


Leave a Reply

Your email address will not be published.